Latest News

Friday, 23 December 2016

BREAKING: मैंने दंगल भारतीयों के भरोसे पर नही बनाई, हम भारत के लोगो के भरोसे पर काम नही करते है...


बॉलिवुड अभिनेता आमिर ख़ान की फ़िल्म दंगल को लेकर उनके प्रशंसक ख़ासे उत्साहित हैं। लेकिन सोशल मीडिया पर एक बार फिर उन्हें पाकिस्तान से जोड़कर बेवजह ही विवाद पैदा करने की कोशिश की जा रही है। इसके लिए सहारा लिया जा रहा है अधूरी व भ्रामक जानकारी का। फ़ेसबुक यूज़र विवेक शेट्टी के इस पोस्ट का यह स्क्रीनशॉट देखें और विडियो भी,
video


इस विडियो में आमिर ख़ान पाकिस्तानी चैनल समा टीवी पर हाल में एक पाकिस्तानी प्लेन क्रैश की दुर्घटना में मारे गए किसी व्यक्ति के लिए अफ़सोस जता रहे हैं। अब आप विवेक शेट्टी का पोस्ट कैप्शन देखिए। उन्होंने लिखा है, ‘Giving Interview to a Paki Channel and saddened for a person who worked in Pak Airforce 2 ..But no statement on Uri Martyrs or Pak Celebs …Hypocrisy at its best from Dangal Star’, यानी एक पाकिस्तानी चैनल को इंटरव्यू देना और पाक एयर फ़ोर्स के लिए काम कर चुके व्यक्ति के लिए दुखी भी होना….लेकिन उड़ी हमले के शहीदों या पाक कलाकारों पर कोई बयान नहीं….’दंगलस्टार का पाखंड।


दूसरी बात यह कि एक पाकिस्तानी चैनल आमिर से बात कर रहा था। ज़ाहिर है पाकिस्तानी चैनल तो शहीद भारतीय सैनिकों के लिए संवेदना ज़ाहिर करने को नहीं पूछेगा। चैनल ने दोनों देश के बीच चल रही तनातनी को लेकर भी कुछ नहीं पूछा। चैनल ने एक कलाकार से एक दूसरे कलाकार के  बारे में पूछा जिसका आमिर ने वही जवाब दिया जो कोई भी सामान्य व्यक्ति देगा। देखें समा टीवी की ख़बर,

अब क्या कलाकार बात ही करना बंद कर दें? आमिर दुनियाभर में भारतीय सिनेमा का एक बड़ा चेहरा हैं। पाकिस्तान में भी उनकी फ़िल्में चलती हैं। क्या भारतीय सरकार ने यहाँ की फ़िल्मों पर वहाँ दिखाए जाने को लेकर बैन लगाया है? अगर ऐसा कुछ होता तो बात कुछ और होती। आप यहाँ क्लिक करके यह ख़बर देख सकते हैं।

लंबे वक़्त से सामाजिक कार्य कर रहे अन्ना हज़ारे एक सैनिक भी रहे हैं। अगर कोई मशहूर पाकिस्तानी हस्ती उनकी प्रशंसा करे तो क्या इसमें कोई बुराई है? हम आपको बता दें कि कई पाकिस्तानी चैनलों ने उनकी प्रशंसा की है। पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर को भारतीय एयर फ़ोर्स ने कैप्टन बनाया है। क्या पाकिस्तानियों ने सचिन से नफ़रत करना शुरू कर दिया है? क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी, कपिल देव और ओलिंपिक पदक विजेता अभिनव बिंद्रा समेत और भी हस्तियाँ आर्मी पदों से सम्मानित हैं। क्या इनकी प्रशंसा पर पाकिस्तान में प्रतिबंध लग गया है? फ्लाइंग सिख नाम से मशहूर धावक मिल्खा सिंह तो भारतीय सेना को अपनी सेवाएँ तक दे चुके हैं। फ़्लाइंग सिख का ख़िताब उन्हें किसी और ने नहीं बल्कि पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति अयूब ख़ान ने दिया था।

यह ख़बर 13 दिसंबर की है। सात दिन बीत चुके हैं। अगर जुनैद जमशेद भारत को लेकर किसी भी प्रकार से ख़तरनाक होते तो आमिर के इस बयान पर अब तक बवाल मच चुका होता। इस तरह लोगों को भ्रमित करने का मक़सद आमिर को कुप्रचारित कर उनकी आने फ़िल्म दंगल को आर्थिक नुक़सान पहुँचाने को हो सकता है। विवेक ने काफ़ी सफ़ाई से कैप्शन लिखा। उन्होंने इस बात का फ़ायदा उठाया कि सोशल मीडिया पर लोग बिना जाने-समझे बातों को सच मान लेते हैं, लिहाज़ा अधूरा सच इस्तेमाल किया जाए। आप यहाँ क्लिक करके उनकी प्रोफ़ाइल देख सकते हैं।


हमें तो इतना कहना है कि अगर इस पोस्ट के पीछे का इरादा कामयाब होता है तो परिणामस्वरूप उसका नुक़सान केवल व्यक्तिगत व आर्थिक नहीं होगा। इससे समाज फिर नफ़रत की आग में जलेगा और धड़ों में बँट जाएगा। हमें भ्रम फैला रहे लोगों से सावधान रहना चाहिए। क्योंकि वैचारिक रूप से कमज़ोर लोग ही झूठ का सहारा लेते हैं।

1 comment:

  1. समझ में नही आता तुम लोग adult ads क्यों लगाते हो

    ReplyDelete