Latest News

Sunday, 6 November 2016

loading...

पाकिस्तान को छोडकर भारत के लड़के से शादी करने आयी पाकिस्तानी युवती, जाने पूरी घटना...

नई दिल्ली ( 6 नवंबर ) : उरी हमले के बाद से ही भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव है। लेकिन इस बीच एक बीच खुशखबरी है। कई बाधाओं के बावजूद पाकिस्तान के कराची की प्रिया रविवार को अपनी बारात लेकर जोधपुर पहुंच गई। चहकते हुए अपने ससुराल जोधपुर में कदम रखते हुए प्रिया ने इतना ही कहा कि ऊपर वाले की मेहरबानी। परेशानी के बादल छंट चुके हैं। ऐसे में शादी का मजा अब बढ़ गया।


कहा- बहुत खुश हूं...

- जोधपुर पहुंचने पर उन्होंने विशेष बातचीत में कहा कि वीजा मिलने में आई अड़चन से घर में सभी लोग काफी निराश हो चुके थे, लेकिन मैं बहुत आशावादी हूं।
- मुझे शुरू से ही विश्वास था कि कोई न कोई राह निकल ही आएगी।
- प्रिया ने बताया कि दोनों देशों में रहन-सहन में कोई विशेष अंतर नहीं है। साथ ही भाषा भी समान ही है। ऐसे में उन्हें यहां एडजस्ट करने में दिक्कत नहीं आनी चाहिए।
- साथ ही उन्होंने जोड़ा कि दो देशों में कुछ तो अलग होता है। ऐसे में नए परिवेश में स्वयं को ढालने के लिए मैं मानसिक रूप से पूरी तरह से तैयार हूं।
- प्रिया ने बताया कि फिलहाल तो कोई प्लान नहीं है, लेकिन भविष्य में मौका मिलने पर मैं अपने पति नरेश के बिजनेस में सहयोगी की भूमिका निभाना अवश्य पसंद करूंगी।


ससुराल वालों ने की जोरदार स्वागत

- अपनी बारात लेकर जोधपुर पहुंची प्रिया का उसके ससुराल पक्ष के लोगों ने गर्मजोशी के बीच गाजेबाजे के साथ स्वागत किया।
- प्रिया के कुछ रिश्तेदार कल शाम थार एक्सप्रेस के जरिए जोधपुर पहुंच चुके थे। जबकि अपने ग्यारह परिजनों के साथ वह मंदसौर में रहने वाली अपनी बहन के साथ जोधपुर पहुंची।
- लंबी यात्रा की थकान को दरकिनार कर उन्होंने मुस्कराते हुए जोधपुर में कदम रखा। वह बड़े उत्साह के साथ अपने ससुराल पक्ष के लोगों से मुलाकात कीं।
- स्वागत के बीच प्रिया ने डांस कर सभी की दिल जीत लिया।
- तीन साल पूर्व जोधपुर के नरेश टेवानी के साथ उसके रिश्ते का रोक्का हुआ था। आज शाम उसकी सगाई होगी। जबकि कल वह नरेश के साथ फेरे लेगी।
- सिंधी समुदाय में रिवाज है कि लड़की के पक्ष के लोग एक बारात के रूप में वर पक्ष के शहर पहुंचते है। वर पक्ष के लोग ही उनके ठहरने और खान-पान की व्यवस्था करते है।
- ऐसे में पाकिस्तान से बारात लेकर पहुंची प्रिया और उसके परिजनों को वर पक्ष की तरफ से जोरदार स्वागत किया गया। शहनाई और ढोल की थाप के साथ उसे प्रवेश कराया गया।

इस वजह से खटाई में पड़ गई थी शादी

- जोधपुर के नरेश के साथ प्रिया की शादी सात नवम्बर को तय की गई, लेकिन शादी से चंद दिन पूर्व तक उसे भारत आने का वीजा नहीं मिल पाया।

- उरी में सैन्य शिविर पर हुए आंतकी हमले के पश्चात भारत सरकार ने पाक नागरिकों को वीजा देने के मामले में कुछ सख्ती कर दी।

No comments:

Post a Comment