Latest News

Saturday, 29 October 2016

loading...

BIG-NEWS: भारत-पाकिस्तान के बीच महायुद्ध में कुछ ही घंटे शेष, होगी दुश्मन से खतरनाक जंग...पढ़े पूरी खबर..

कुआंटान (मलेशिया): भारतीय पुरुष हॉकी टीम को एशियन चैम्पियंस ट्रॉफी के खिताब के लिए आज (रविवार) अपने चिर प्रतिद्वंद्वी और मौजूदा विजेता पाकिस्तान से भिड़ना है. भारत ने अपने स्टार गोलकीपर और कप्तान पी.आर.श्रीजेश की बदौलत शनिवार को टूर्नामेंट के सेमीफाइनल मुकाबले में दक्षिण कोरिया को पेनाल्टी शूटआउट में हराकर फाइनल में प्रवेश किया.

इसके अलावा, पाकिस्तान ने भी शनिवार को हुए एक अन्य सेमीफाइनल मुकाबले में मलेशिया को हराकर फाइनल का टिकट कटाया.
एशियन चैम्पियंस ट्रॉफी के इतिहास पर एक नजर डालें, तो भारतीय टीम ने 2011 में पाकिस्तान को पेनाल्टी शूटआउट में मात देकर खिताबी जीत हासिल की थी. हालांकि, पाकिस्तान की टीम इस खिताब को दो बार अपने नाम कर चुकी है.
कतर की राजधानी दोहा में 2012 में आयोजित हुए इस टूर्नामेंट में पाकिस्तान ने अपना बदला पूरा करते हुए भारत को हराकर खिताबी जीत हासिल की थी और 2013 में मेजबान देश जापान को हराकर दूसरी बार खिताब जीता था.
इस खिताब को दो बार अपने नाम कर चुकी पाकिस्तान की टीम को खिताबी मुकाबले में हराना भारत के लिए थोड़ा मुश्किल हो सकता है, लेकिन नामुमकिन नहीं. क्योंकि भारतीय टीम ने टूर्नामेंट के चौथे संस्करण में बेहतरीन खेल का प्रदर्शन करते हुए अपने तीसरे मुकाबले में पाकिस्तान को ही 3-2 से मात दी है.
भारत इस टूर्नामेंट में अपना एक भी मुकाबला नहीं हारा है. पहले मुकाबले में जापान को 10-2 की करारी शिकस्त देकर भारत ने एशियन चैम्पियंस ट्रॉफी के चौथे संस्करण का विजयी आगाज किया था, वहीं दूसरे मैच में उसने दक्षिण कोरिया को 1-1 से बराबरी पर रोका था.
भारतीय टीम ने तीसरे मुकाबले में पाकिस्तान को हराने के बाद चीन के खिलाफ चौथे मैच में 9-0 से जीत हासिल की थी. सेमीफाइनल में उसने दक्षिण कोरिया को हराकर खिताबी मुकाबले में प्रवेश किया.
पाकिस्तान की टीम को इस टूर्नामेंट में दो बार हार का सामना करना पड़ा है, वहीं उसने बाकी तीन मुकाबलों में जीत हासिल की. मलेशिया के खिलाफ पहला मैच हारने के बाद दूसरे मैच में टीम ने दक्षिण कोरिया को हराया. भारत के खिलाफ तीसरे मुकाबले में उसे हार का सामना करना पड़ा. हालांकि, इसके बाद पाकिस्तानी टीम एक भी मुकाबला नहीं हारी और सेमीफाइनल में मलेशिया से हार का बदला लेते हुए उसने खिताबी मुकाबले में कदम रखा.
दो साल के अंतराल के बाद आयोजित हुए इस टूर्नामेंट को जीतने के लिए भारत और पाकिस्तान के बीच कांटे की टक्कर देखी जाएगी. एशियन चैम्पियंस ट्रॉफी के चौथे संस्करण में जहां एक ओर पाकिस्तान तीसरी बार इस खिताब को अपने नाम करने के लक्ष्य से मैदान पर उतरेगा, वहीं दूसरी ओर भारत दूसरी बार इस खिताब पर कब्जा जमाना चाहेगा.
भारत और पाकिस्तान के बीच एशियन चैम्पियंस ट्रॉफी की खिताबी भिडंत आज शाम छह बजे होगी और अगर भारतीय टीम इस खिताब को अपने नाम कर लेती है, तो देशवासियों के लिए टीम की ओर से यह दिवाली का सबसे बड़ा तोहफा होगा.


No comments:

Post a Comment