Latest News

Friday, 28 October 2016

loading...

अभी-अभी: बर्बाद हुआ चीन, चाइना बाजार ओंदे मुह गिरा, युआन 6 साल के निचले स्तर पर....


बीजिंग (28 अक्टूबर):भारत में चीनी सामानों के बायकॉट का असर ड्रैगन के मुद्रा पर भी देखा जा रहा है। चीन की मुद्रा युआन की केंद्रीय समता दर अमेरिकी डॉलर के मुकाबले छह वर्षो के सबसे निचले स्तर तक पहुंच गई है। चाइना फॉरेन एक्सचेंज ट्रेड सिस्टम के मुताबिक आन की केंद्रीय समता दर अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 122 आधार अंक घटकर 6.7858 हो गई है।



डॉलर के मुकाबले युआन का केंद्रीय समता मूल्य प्रत्येक कारोबारी दिन अंतरबैंक बाजार खुलने से पहले बाजार के विविध घटकों द्वारा पेश मूल्य के भारित औसत के बराबर होता है।

हमारा भारत एक परिवार है और इसके प्रति हमारा सबका उतरदायित्व बनता है। हमे देश कि जनता को जागरूक करना होगा और हमे अधिक से अधिक स्वदेशी सामान का उपयोग करना होगा। अभी तो सिर्फ चाइना के विरुद्ध आज ही उठी है और चीन 5 साल पीछे चला गया। तो सोचो दोस्तों हमने चाइना के सामान का पूर्ण रूप बहिस्कार कर दिया तो चीन हमारे घुटने में आ जायेगा। भारत चाइना का सबसे बड़ा बाजार है। आज भारत का सबसे बड़ा रोड़ा चीन ही है जो भारत को वीटो पॉवर नही मिलने दे रहा है। अगर भारत का हर नागरिक इस टोपिक पर सिर्फ 10 मिनिट दे देगा तो हमारे आने वाली पीढ़ी का भविष्य और हमारा भारत एक बार फिर दुनिया में अलग ही अन्दांज से होगा। आज दुनिया भारत कि युवा ताकत से डरती है तो दोस्तों वो समय आ गया है। दिखा दो चीन को अपनी ताकत जिसने भारतीय लोगो को नाकारा बताया था और कहा था कि भारत चीन पर आश्रित है। इससे हमारे देश कि सबसे बड़ी समस्या का समाधान हो जायेगा एक तो देश के लोगो को रोजगार मिलेगा और बेरोजगारी खत्म हो जाएगी। जागो दोस्तों जागो आज हमे भारत माँ का कर्ज चुकाना है दोस्तों इस पोस्ट को अधिक से अधिक शेयर करे, अपने देश के प्रति अपनी अपनी जिम्मेदारी निभाए। जय हिन्द-जय भारत...


देश के हर नागरिक से आग्रह है कि ज्यादा से ज्यादा स्वदेसी वस्तुओ का उपयोग करे। अपनी मेहनत का पैसा अपने देश के कामगारों को दे जिससे हमारे देश कि बेरोजगारी कम होगी व अर्थव्यवस्था में सुधार होगा। इस पोस्ट को अधिक से अधिक शेयर करे आपका एक शेयर किसी मासूम के चेहरे पर ख़ुशी ला सकता है। अपने देश के प्रति अपनी जिमेदारी निभाए। जय हिन्द जय भारत...

No comments:

Post a Comment