Latest News

Saturday, 24 September 2016

loading...

PM मोदी कि ललकार, कहा 21 वी सदी नही देख पायेगा पाकिस्तान, पढ़े पूरा भाषण...

PM MODI ने अपने भाषण की शुरुआत मल्यालम भाषा में की। जिसके बाद उन्होंने कहा कि मैं जब खाड़ी देशों में जाता है तब मेरी सबसे पहली कोशिश यही रहती है कि यहां अपने भारतीय साथियों से मुलाकात करूं। मैं जब भी इन देशों में गया मुझे हर जगह अपने भारतीय भाईयों की तारीफ ही मिली।


उन्होंने कहा कि मैं केरल में दूसरी बार आया हूं मगर मुझे यहां आने पर ऐसा लगता है जैसे मैं अपने घर में आ गया हूं। उन्होंने कहा कि बीजेपी 50 सालों में दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बन गई है। उन्होंने कहा कि देश कल से दीन दयाल उपाध्यय की जन्मशती मना रहा है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि तीन महापुरुषों के चिंतन ने देश के प्रभावित किया है। एक दीन दयाल उपाध्याय दूसरे महात्मा गांधी तीसरे थे लोहिया। ये तीनों ही पिछले तीन शताब्दियों के देश के सबसे महान विचारक हैं।

उन्होंने अपनी प्रधानमंत्री यात्रा के बारे में बात। साथ ही उन नेताओं का शुक्रिया कहा जिन्होंने उन्हें पार्टी नेता चुना और प्रधानमंत्री के पद तक पहुंचाया।

पाकिस्तान पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि एक ऐसा देश भी है जो 21वीं सदी नहीं देखना चाहता। एशिया के अंदर जहां भी आतंक की घटना हो रही है उसका जिम्मेदार सिर्फ एक ही देश है। और सब जानते हैं वो देश कौन है। अफगानिस्तान हो या कोई देश हो मगर दुनिया में कहीं भी आतंकी घटनाएं होती है उस वक्त मेरे दिमाग में सिर्फ एक ही देश का नाम आता है। इस बार इस देश को माफ नहीं किया जाएगा। साफ तौर पर उनका निशाना सिर्फ पाकिस्तान था।

उन्होंने आगे बोलते हुए कहा आतंकवाद कैसा है ये केरल के लोग अच्छी तरह से जानते हैं। आतंकी हमारे यहां की बेटियों को उठा कर ले गए। पूरा देश चिंता में था कि हम उन्हें बचा पाएगा ये नहीं। उन्होंने कहा आतंकवाद के आगे ना तो देश झुका है ना कभी झुकेगा।

उन्होंने कहा पड़ोस के देश के नेता कहा करते थे हजार साल लड़ेंगे। लेकिन आज वो कहा चले गए किसी को कोई पता नहीं। उन्होंने कहा कि नवाज शरीफ आतंकियों के लिखे गए भाषण पढ़ते हैं। उन्होंने कहा कि मैं आज यहां से सीधे पाकिस्तान के लोगों से कहना चाहता हूं कि जिन्होंने ऐसे नेता को चुना है जो आतंकियों के भाषण को पढ़ता था।

उन्होंने पाकिस्तानियों को याद दिलाया कि 1947 से पहले PAK के लोग भी यहां की धरती को ही अपनी मां मानते थे। यहां के लोग अपने हुकमरानों से पूछे पीओके तो आपके पास इसे तो आप संभाल नहीं पा रहे हैं। आप बांग्लादेश को नहीं संभाल पाए। आप बलूचिस्तान को नहीं संभाल पा रहे हो। गिलगिट को नहीं संभाल पा रहे हो।

पाक की अवाम पूछे अपने नेताओं से उन्होंने आखिर किसे संभाला है। पाकिस्तानी की अवाम अपने नेताओं से पूछे कि दोनों देश एक साथ आजाद हुए। मगर भारत आज दुनिया में सॉफ्टवेयर एक्सपोर्ट करता है जबकि पाकिस्तान आतंकवादियों को। उन्होंने कहा भारत जंग के लिए तैयार है क्या पाकिस्तान तैयार है? आओ बता देंगे तुम्हे तुम्हारी औकात।


उन्होंने कहा कि हमारे 18 जवानों का बलिदान बेकार नहीं जाएगा। पूरी दुनिया में पाकिस्तान को अलग होने पर मजबूर कर देंगे। उसे बता देंगे उसकी औकात।

No comments:

Post a Comment